भारत के सभी राष्ट्रीय पुरस्कारों का विवरण – Indian All National Awards Details In Hindi


इसे भी जरुर देखें :-

Indian All National Awards Details in Hindi – भारत के सभी राष्ट्रीय पुरस्कारों का विवरण

सिविलियन पुरस्कार

पद्म भूषण पुरस्कार: यह पुरस्कार भारत सरकार के द्वारा दिया जाने वाले तीसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है. जो की देश के लिए बहुमूल्य योगदान देने वाले व्यक्ति को दिया जाता है.
पद्मश्री पुरस्कार: यह पुरस्कार भारत सरकार के द्वारा कला, शिक्षा, उद्योग, साहित्य, विज्ञान, खेल, चिकित्सा, समाज सेवा और सार्वजनिक जीवन देकर विशिष्ट योगदान देने वाले व्यक्ति को दिया जाता है. पहली बार पद्मश्री पुरस्कार वर्ष 1954 में दिया गया था.
भारत रत्न पुरस्कार: यह पुरस्कार कला, साहित्य, विज्ञान, सार्वजनिक सेवा और खेल के क्षेत्र में योगदान के लिए दिया जाता है. यहाँ भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है. इस पुरस्कार की शुरुआत 2 जनवरी 1954 में तत्कालीन राष्ट्रपति श्री राजेंद्र प्रसाद ने की थी. यह पुरस्कार सबसे पहले सर्वपल्ली राधाकृष्णन को दिया गया था.
पद्म विभूषण पुरस्कार: यह पुरस्कार भारत सरकार के द्वारा दिया जाने वाला दूसरा उच्च नागरिक सम्मान है जो की असैनिक क्षेत्रों में बहुमूल्य योगदान के लिए दिया जाता है. इस पुरस्कार की शुरुआत 2 जनवरी 1954 में हुई थी.
 

सैन्य के क्षेत्र में दिए जाने वाले पुरस्कार:

वीर चक्र: यह पुरस्कार भारतीय सैनिकों को वीरता और बलिदान के लिए दिया जाता है। यह मरणोपरान्त भी दिया जा सकता है.
अशोक चक्र पुरस्कार: यह पुरस्कार राष्ट्रपति के द्वारा सैनिकों और असैनिकों को असाधारण वीरता, शूरता या बलिदान के लिए दिया जाता है. इस पुरस्कार को मरणोपरान्त भी दिया जा सकता है. इसकी स्थापना 1952 हुई थी.
कीर्ति चक्र: यह पुरस्कार महावीर चक्र के बाद सैनिकों और असैनिकों को असाधारण वीरता व बलिदान के लिए मरणोपरान्त भी दिया जा सकता है.
शौर्य चक्र: यह पुरस्कार सैनिकों और असैनिकों को असाधारण वीरता व बलिदान के लिए कीर्ति चक्र के बाद दिया जाता है.
परमवीर चक्र: यह पुरस्कार देश का सर्वोच्च शौर्य सैन्य अलंकरण है जो की उच्च कोटि की शूरवीरता और त्याग के लिए दिया जाता है पुरस्कार की शुरुआत 26 जनवरी 1950 को की गयी थी. इस पुरस्कार को मरणोपरान्त भी दिया जा सकता है.
महावीर चक्र: यह पुरस्कार परमवीर चक्र के बाद देश के सैनिकों और असैनिकों को असाधारण वीरता और बलिदान के लिए मरणोपरान्त भी दिया जा सकता है.

नेतृत्व पुरस्कार

गांधी शांति पुरस्कार: यह भारत सरकार के द्वारा दिया जाने वाला अंतर्राष्ट्रीय गाँधी शांति पुरस्कार है जो की महात्मा गाँधी जी के नाम पर दिया जाने वाला वार्षिक पुरस्कार है. यह पुरस्कार सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक बदलावों को अहिंसा और अन्य गांधीवादी तरीकों द्वारा प्राप्त करने पर दिया जाता है. यह पुरस्कार वर्ष 2009 में द चिल्ड्रेन्स लीगल सेंटर को दुनिया भर में बाल मानवाधिकार को बढ़ावा देने के लिए दिया गया था.
इंदिरा गांधी पुरस्कार: यह पुरस्कार भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की याद में दिया जाता है. जो की इंदिरा गांधी शांति, निरस्त्रीकरण और विकास पुरस्कार’ हर वर्ष समाज सेवा, निरस्त्रीकरण व विकास के कार्य में महत्वपूर्ण योगदान के लिए दिया जाता है.
 

साहित्य अकादमी पुरस्कार

ज्ञानपीठ पुरस्कार: यह पुरस्कार भारतीय ज्ञानपीठ न्यास द्वारा भारत के साहित्य में सर्वोच्च कार्य करने वाले व्यक्ति को दिया जाता है. इस पुरस्कार के साथ ग्यारह लाख रुपये की धनराशि, प्रशस्तिपत्र और वाग्देवी की कांस्य प्रतिमा दी जाती है. इस पुरस्कार की शुरुआत 1965 में हुई थी.
अनुवाद पुरस्कार: यह पुरस्कार साहित्य अकादमी द्वारा सर्जनात्मक लेखन के लिए दिया जाता है. इस पुरस्कार के साथ 10,000/-रु की धन राशि दी जाती थी. वर्ष 2003 में सरकार ने यह राशि 20,000/-रु. कर दी गई थी.
साहित्य अकादमी पुरस्कार: यह पुरस्कार साहित्य अकादमी हर वर्ष मान्यता प्रदत्त प्रमुख भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सर्वोत्कृष्ट साहित्यिक कृति को पुरस्कार प्रदान करती है. इस पुरस्कार के साथ 50,000 रुपए की राशि दी जाती है
साहित्य अकादमी फैलोशिप: यह फैलोशिप भारत की साहित्य अकादमी द्वारा दिए जाने वाले सर्वोच्च सम्मान है. यह सम्मान सबसे पहले सर्वपल्ली राधाकृष्णन को दिया गया था.
भाषा सम्मन पुरस्कार: यह पुरस्कार साहित्य अकादमी मान्यता-प्राप्त 24 भारतीय भाषाओं में साहित्य अकादमी पुरस्कार प्रदान करती है. इस पुरस्कार को शैक्षिक अनुसंधान को स्वीकार और बढ़ावा देने के लिए स्थापित किया गया था.
 

खेल के क्षेत्र में दिए जाने वाले राष्ट्रीय पुरस्कार

अर्जुन पुरस्कार: यह पुरस्कार भारत सरकार के द्वारा खेल के क्षेत्र में बेहतर योगदान के लिए दिया जाता है. इस पुरस्कार की शुरुआत 1961 में हुई थी. यह खिलाडियों को दिया जाने वाला पुरस्कार है. इस पुरस्कार के साथ खिलाडी को 5 रुपये और अर्जुन की कांस्य प्रतिमा और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है.
ध्यान चंद पुरस्कार: इस पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 2002 में हुई थी. यह पुरस्कार किसी खिलाडी के जीवन भर के कार्य को गौरवान्वित करने पर दिया जाता है. यह पुरस्कार खेलों में जीवनगौरव ध्यानचंद पुरस्कार है. इस पुरस्कार के साथ एक प्रतिमा, प्रमाण पत्र, औपचारिक पोशाक और 5 लाख रूपये दिए जाते है.
राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार: यह पुरस्कार खेल में दिया जाने वाला सबसे बड़ा पुरस्कार है जिसका नाम भूतपूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी के नाम पर रखा गया है. इस पुरस्कार के साथ एक पदक, एक प्रशस्ति पत्र और 7.5 लाख रूपये दिए जाते है. साथ ही सरकार की तरफ से व्यक्ति को रेलवे की मुफ्त पास सुविधा प्रदान की जाती है.
द्रोणाचार्य पुरस्कार: यह पुरस्कार खेल और खेलों में बेहतर कोचों के लिए दिया जाता है यह पुरस्कार भारत गणराज्य के खेल कोचिंग सम्मान है. जिसका नाम महाकाव्य महाभारत का एक गुरु “द्रोणाचार्य” या “गुरु द्रोण” के नाम पर रखा गया है. इस पुरस्कार के साथ एक कांस्य प्रतिमा, एक प्रमाण पत्र, औपचारिक पोशाक और 5 लाख रूपये नकद पुरस्कार दिया जाता है.


अपने दोस्तों से शेयर जरुर करे :-


 इसे भी देखें :-

हैलो स्टूडेंट हमें उम्मीद है आपको हमारा यह पोस्ट "भारत के सभी राष्ट्रीय पुरस्कारों का विवरण – Indian All National Awards Details In Hindi" जरुर पसंद आया होगा l हम आपके लिए ऐसे ही अच्छे - अच्छे पोस्ट रोज लिखते रहेंगे l अगर आपको वाकई मे हमारा यह पोस्ट जबर्दस्त लगा हो तो अपने दोस्तों शेयर करना ना भूलेl

अपने फेसबुक पर लेटेस्ट अपडेट सबसे पहले पाने के लिए Taiyari News पेज जरुर Like करे l


इसे भी पढ़े :


Disclaimer : Taiyari News claim this post, that we made and examined. We giving the effectively content on web. In the event that any way it abuses the law or has any issues then sympathetically mail us : [email protected]